Learn Better | Life Better

क्या आप जानते हैं | स्मार्टफ़ोन प्रकाश स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है | smart phone light is dangerous for health

आजकल हर कोई स्मार्टफ़ोन का उपयोग करता है | ऐसे में व्यस्त जीवन में  दिनो-दिन स्मार्टफ़ोन की मांग बढ़ रही है। इन छोटे उपकरणों की मदद से लोग एक-दूसरे के साथ कनेक्ट और अपडेट करते हैं,
 यहां तक ​​कि यह मनोरंजन का एक बड़ा स्रोत बन गया है।

स्मार्टफ़ोन की सहायता से शॉपिंग, मूवी टिकट, फ्लाइट टिकट, रीडिंग इत्यादि सब कुछ ट्रैक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। मिनटों में बहुत सारे कार्यों को संभालने के कारण स्मार्टफ़ोन ने किताबें, अलार्म घड़ियां, कैमरे और नोटपैड की जगह ले ली हैं | 

यहां तक ​​कि हम यह भी देख सकते हैं कि परिवार में लोगों के संख्या की बजाय स्मार्ट फोन की संख्या अधिक है अब तो ऐसा लगता हैं ,स्मार्टफोन के बिना जीवन अधूरा है, यह भी एक आवश्यकता के साथ एक आदत बन गई है। यद्यपि स्मार्टफ़ोन का उपयोग करने के कई फायदे हैं लेकिन इन अविश्वसनीय डिवाइसों में अपनी कुछ कमियां भी हैं।  
लंबे समय के लिए स्मार्टफ़ोन का उपयोग से उनसे आने वाला प्रकाश आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है और कई रोगों को भी आमंत्रित कर सकता है। 
स्मार्टफ़ोन का प्रकाश स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।
हमारे शरीर स्वाभाविक रूप से एक चक्र है जो हमें निरन्तर जागे रहने के लिए अनुमति देता है तथा दिन के दौरान सतर्क और रात में आवश्यक रूप से विश्राम प्राप्त करने में हमारी सहायता करता  हैं| लेकिन जब हम सो जाते हैं और सो जाने के बाद भी स्मार्टफोन की स्क्रीनों को देखते हैं तो हमारा दिमाग भ्रमित हो जाता है। मस्तिष्क रात में मेलेटोनिन हार्मोन पैदा करता है, जो हमारे शरीर को सोने के लिए इंगित करता है, लेकिन उस समय स्मार्टफ़ोन के उपयोग के कारण उसमें से आने वाला प्रकाश मस्तिष्क को भ्रमित करता है और यह ठीक से काम नहीं कर सकता है। जिसके कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न होती हैं जो निम्न हैं :-

1. यदि आप लंबे समय तक सो नहीं पा रहे हैं तो आपके मस्तिक में न्यूरोटॉक्सिन का निर्माण हो सकता है, जिससे अच्छी नींद लेना मुश्किल हो जाता है। तथा अनिद्रा भी हो सकता है. 

2. स्मार्टफ़ोन के कारण रात की नींद खराब हो जाती है,जिससे सुबह लेट उतना होता ,इसलिए अगले दिन किसी भी नई चीज को सीखना मुश्किल हो सकता है या मस्तिष्क ठीक से काम नहीं कर पा रहा है क्योकि की मस्तिक थका हुआ रहता है।

3. जब स्मार्टफोन से आने वाली रोशनी के कारण मैलेटोनिन हार्मोन ठीक से काम नहीं करता तो यह अन्य हार्मोन को भी प्रभावित करता है, जो भूख को ठीक से नियंत्रित नहीं कर सकता है, संभावित रूप से मोटापे के जोखिम को बढ़ाता है। या इसका उल्टा भी हो सकता हैं। 

4. नींद का पूरी नहीं होने से सिरदर्द, भ्रम की समस्या और आपकी स्मृति को भी प्रभावित करती है 

5. एक शोध से पता चला है कि स्मार्टफोन में टॉयलेट सीट की तुलना में लगभग 10 गुना अधिक बैक्टीरिया होता हैं। आप बस एक बार ये सोचें कि आप खाने के दौरान फ़ोन को कितनी बार उपयोग करते हैं और कितने जीवाणु आपके शरीर में प्रवेश करेंगे।

6. स्मार्टफोन की रोशनी के कारण, मेलाटोनिन हार्मोन लोगों में ठीक से काम नहीं कर पता , जो  उम्र बढ़ने के साथ-साथ अवसाद की समस्या का कारण बनता है। 

7. रात को स्मार्टफ़ोन  चलाते समय फ़ोन से आ रहा प्रकाश  तथा नींद के बीच कुछ संबंध हैं, जिसके कारण महिलाओ  के प्रोस्टेट और स्तन कैंसर की संभावना बढ़ती हैं। 

8. स्मार्टफ़ोन से आने वाली नीली रोशनी से मोतियाबिंद हो सकती है,  यहां तक ​​कि जब सीधे नीली रोशनी हमारी आंखों में प्रवेश करती है तो यह रेटिना को भी नुकसान पहुंचा सकती है.

9. यह कहना गलत नहीं होगा कि लोगों को लोगों से जुड़ने के लिए मोबाइल का आविष्कार किया गया हैं इससे लोग संपर्क में रहे। लेकिन आज के समय में फोन ने व्यक्ति को  एक दूसरे से अलग कर दिया है। 

10. क्या आप नोमोफोबिया के बारे में जानते हैं? मोबाइल फोन खोने का डर या खराब सिग्नल के डर से नोमोफोबिया कहा जाता है थोड़े समय के लिए हो सकता है, लेकिन मोबाइल फोन खोने का अनुभव हर किसी के साथ हुआ है आजकल उपयोगकर्ता बिना फोन के अधूरे और परेशान महसूस करता है। यह कहना गलत नहीं होगा कि स्मार्टफोन आजकल जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है, 
लेकिन हमें इसे ठीक से उपयोग करना चाहिए ताकि स्वास्थ्य स्वस्थ रहता है अगर संभव है, रात में कम उपयोग करें क्योंकि ये विकिरण हानिकारक बीमारियों के कारण हो सकते हैं जो की ठीक नहीं हो सकते। इसलिए, बीमार होने की बजाय पहले सावधानी बरतना बेहतर है. 
यदि हमारी बात आपको सही लगी हो तो इसे अपने दोस्तों में शेयर जरूर करे, आप ऐसी जानकारियों से अपडेट रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज लिखे कर सकते हैं।  
Moble Se Haniya ,Mobile se nukhsan, smartphone se samsyha

No comments:

Post a Comment

सवाल पूछने के बाद "Notify me" आप्शन को ✔(Right Mark) करे, ताकि आपके पूछे गये सवाल का जवाब मिलने पर आपको सुचना मिल जाये:-