ब्लैक होल क्या होता हैं ? सम्पूर्ण जानकारी | What is Black Hole Hindi

ब्लैक होल नाम सुनते ही इसका अर्थ हम यही निकालते हैं की ये कोई एक काला छिद्र होगा बस!...
जी हा दोस्तों ये काला छिद्र ही लेकिन ये सिर्फ काला छिद्र नहीं इसके कई रहस्य भी हैं। ..
सबसे पहले तो सवाल ये होता हैं की ब्लाक होल क्या है, कैसे आया,कहा पर होता है। .. तो चलिए अधिक जाानते है।इसी टॉपिक पर। ...

ब्लैक होल क्या होता हैं ?

गैलक्सी बहुत बड़ी है इसका अंतिम सिरा कहा तक है इसका कोई अस्तित्व नहीं हैं , अतः गैलेक्सी (ब्रह्मण्ड ) में बहुत से पिंड (तारे, गृह पत्थर आदि ) बिखरे होते हैं, गैलेक्सी की सरचना लगभग परमाणुओं जैसी होती हैं (परमाणु क्या होते है) उनके बीच टक्क्र होती हैं तो इस कारण गैलक्सी में पिण्डो के मध्य नाभिकीय सलयन (Nuclear Fusion  ) होता हैं , नाभिकीय संलयन से निकली हुई ऊर्जा के कारण ही तारा गुरुत्वाकर्षण से संतुलन में रहता हैं , इसलिए जब तारो में मौजूद हाइड्रोजन ख़त्म हो जाती हैं तो वह तारा धीरे - धीरे ठंडा होने लगता हैं फिर अपने ईंधन को समाप्त कर चुके शौर्य द्रव्यमान से 1.5 गुना द्रव्यमान वाले तारे जो वे अपने ही खुद के गुरुत्वाकर्षण के विपरीत खुद को संभाल नहीं सकते हैं।  इस तरह की िस्थति में इस तारो या पिंडो के अंदर एक विस्फोट होता हैं, जिसे सुपरनोवा (supernova ) कहते हैं। 
इस विस्फोट के पछ्चात यदि उस पिंड का कोई घनत्व वाला अवशेष रहता है तो वह बहुत खतरनाक घनत्व युक्त न्यूट्रॉन तारा बन जाता हैं (Neutron Star ) बन जाता हैं ,ऐसे तारों में बहुत ज्यादा गुरुत्वीय खिचाव होने के वजह से पिंड में संकुचन (compress ) होने लगता हैं, संकुचन होने के साथ-साथ आखिर में एक निश्चित क्रांतिक सीमा तक संकुचन हो जाता हैं तथा इस तरह के संकुचन के वजह से उस पिंड का आयतन या (volume ) और समय भी विकृत (deform)हो जाता हैं और अपने में ही आयतन और टाइम का अतित्व मिट जाने के कारण वह अदृश्य हो जाता हैं तथा यह वही अदृश्य पिंड हैं जिनको हम ब्लैक होल  कहते हैं। 

Research of  Black  Hole : 

ब्लैक होल का विचार दुनिया में सर्वप्रथम Professor John Michell ने रखा. John Michell ने 1783 में ब्लैक होल की research के कदम बढ़ाये  फिर उनके बाद France  के एक scientist  Pierre Simon  ने 1883 में अपनी एक किताब में  ब्लैक होल का सम्पूर्ण जिक्र किया उस बुक का नाम the system of  word था|  
वैज्ञानिको ने एक ब्लैक होल का शोद किया जिसमे एक ब्लैक होल जिसका नाम Cygnus X1 हैं, इस ब्लैक की पृष्टि 1972 में की थी. इसका गुरुत्वकर्षण इतना ज्यादा है की  उसके आर पार रोशनी भी नहीं जा पाती क्योकि ब्लैक होल प्रकाश को अवशोष(निगलना या ख़त्म )कर लेता हैं इस कारण वहा अँधेरा रहता हैं  और ये एक छिद्र जैसा प्रतीत होता हैं इस कारण इसका नाम ब्लैक होल रखा गया। 

Fact Of  Black Hole:

  1. ब्लैक होल केवल प्रकाश का ही अवशोषण नहीं करता हैं , वह अपने आस - पास क्षेत्र में आने वाले कणो या पिंड को अवशोष कर लेता हैं इतना ही नहीं कोई पिंड जितना ब्लैक के करीब जाता है उतना ही  समय का प्रभाव भी काम हो जाता और ब्लैक होल के अंदर समय का कोई अश्तित्व नहीं होता हैं 
  2. किसी ब्लैक होल का सम्पूर्ण द्रव्यमान उसके केंद्र के एक छोटे में होता है जिसे central Singularity Point  कहते हैं। 
  3. ब्लैक होल के आस -पास क्षेत्र में गोलाकार सीमा या क्षितिज को event horizon कहते हैं  इस  event horizon  के बाहर कोई वस्तु नहीं जा सकती  आशर्य बात यह हैं की प्रकाश भी ब्लैक होल से बहार नहीं जा सकता हैं। 
  4.  ब्लैक होल में समय के अस्तित्व का उदारण इस प्रकार हो सकता है की यदि यह माना जाये की कोई व्यक्ति ब्लैक की सिमा के पास जाये तो उसकी घडी में समय बहुत धीमा चलने लगेगा ,उस व्यक्ति के हर हलचल में समय ज्यादा लगेगा।  क्योकि ब्रह्रमाण्ड में हर अलग - अलग जगह पर अलग गति होती है और समय अलग होता हैं। 
  5. south union Laboratory के वैज्ञानिको द्वारा अभी तक खोजा गया सबसे बड़ा ब्लैक होल का पता लगाया ,उस ब्लैक होल में Galaxy (बरह्माण्ड) का 1277 का 14% द्रव्यमान अपने अंदर अवशोष करके रखा हैं। 

ब्लैक होल किस प्रकार के होते है | Type Of Black Hole

वैज्ञानिक John Michell के अनुसार ब्लैक होल अपने आस-पास निकट स्थित आकाशीय पिण्ड पर अपना गुरुत्वीय प्रभाव डालते है इस तरह पिण्ड वह ब्लैक होल के मध्य अँधेरा होता है इस प्रक्रिया में अँधेरा खींचता हुआ प्रतीत होता है उस जगह ब्लैक होल होने की उपस्थति का पता चलता हैं. 

ब्रह्माण्ड में कभी कभी कुछ तारे ,पिंड या ग्रह किसी और खींचता हुआ लगे या तारा अचानक चमकना बंद हो जाये वहा पर स्पस्ट रूप से ब्लैक होने की सम्भावना होती है। 
गैलेक्सी में कभी-कभी दो पिण्ड या दो तारे एक दूसरे की परिक्रमा करते हर नजर आते है तथा यदि उनके बीच में कोई धब्बा दिखाई देता है तो वह ब्लैक होल हो सकता है।  
मैं उम्मीद करता हूं कि आप को ब्लैक होल के बारे में अच्छी जानकारी मिल चुकी होगी यदि आपको ब्लैक होल के लिए आपके कोई विचार हो तो हमारे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें।

No comments:

Post a Comment

सवाल पूछने के बाद "Notify me" आप्शन को ✔(Right Mark) करे, ताकि आपके पूछे गये सवाल का जवाब मिलने पर आपको सुचना मिल जाये:-