Arithmetic operation/ operator in c language in hindi

Arithmetic operation/ operator
 ऐसे ऑपरेटर जिनका प्रयोग गणित के कार्यों जैसे जोड़ना, घटाना, गुणा करना आदि में होता है,अर्थमेटिक ऑपरेटर कहलाते हैं ऑपरेंड की संख्या के आधार पर इन्हें दो वर्गों में बांटा जाता है.
1. अर्थमेटिक बायनरी ऑपरेटर
2. अर्थमेटिक यूनिटी ऑपरेटर

1. अर्थमेटिक बाइनरी ऑपरेटर (Arithmetic Binary operator) :- ऐसे अर्थमेटिक जिसमें दो ऑपरेड होते हैं अर्थमेटिक बायनरी ऑपरेटर कहलाते हैं इन सभी ऑपरेटर्स के  उनके अर्थ निम्न है:-
कार्य चिन्ह  उदाहरण   परिणाम 
जोड़  + 5+2 7
घटाव  _  5-2 3
गुणा  *  5*2 10
भाग  /  5/2 2.5
शेषफल Mod. % 5%2 1
Modulus का उपयोग केवल integer वैल्यू के लिए होता है फ्लाइट पॉइंट नंबर के लिए नहीं।
2. अर्थमेटिक युनेरी ऑपरेटर Arithmetic Unary operator:- यूनेरी  प्लस(unary plus) तथा युनेरी माइनस( unary minus) दो अर्थमेटिक युनेरी ऑपरेटर होते हैं +2 तथा -2 क्रमशः युनेरी प्लस तथा युनेरी माइनस के उदाहरण है.

Arithmetic Expression
अर्थमेटिक एक्सप्रेशन ऐसा एक्सप्रेशन जिसमें अर्थमेटिक ऑपरेटर + - * / तथा % के साथ कांस्टेंट ऑन वेरिएबल होता हो तथा जिनका उद्देश्य अर्थपूर्ण गणना करना हो, अर्थमेटिक एक्सप्रेस कहलाता है 
उदाहरण  10+2*5  (यहां 10, 2, 5 ऑपरेटर है जबकि+, * ऑपरेटर है) 

एक्सप्रेशन का परिवर्तन 
C भाषा में गणितीय एक्सप्रेशन का उप्रयोग लेने के लिए गणिती एक्सप्रेशन को C भाषा के एक्सप्रेशन में बदलना होता है जो कि निम्न प्रकार है

अर्थमेटिक ऑपरेशन की वरीयता( Arithmetic operator's Precedence)
एक गणितीय एक्सप्रेस BODMAS के नियम से मूल्यकिंत किया जाता है | 
B ब्रेकिट की पहली वरीयता होती है 
O OF ऑपरेटर की दूसरी वरीयता होती है 
D भाग ऑपरेटर की तीसरी वरीयता होती है
M गुना ऑपरेटर की चौथी वरीयता होती है
A  जोड़ ऑपरेटर की पांचवी वरीयता होती है
S घटाव ऑपरेटर की छठी वरीयता होती है।
   

No comments:

Post a Comment

सवाल पूछने के बाद "Notify me" आप्शन को ✔(Right Mark) करे, ताकि आपके पूछे गये सवाल का जवाब मिलने पर आपको सुचना मिल जाये:-